10.5 C
London
Thursday, May 6, 2021

IPL पर भास्कर पोल: 71% फैन्स नहीं चाहते कि पाकिस्तानी खिलाड़ियों को लीग में मौका दिया जाए; आखिरी बार 2008 में 12 खिलाड़ी खेले थे

- Advertisement -
- Advertisement -

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

20 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में लगभग सभी बड़ी क्रिकेटिंग कंट्री के प्लेयर्स खेल रहे हैं। लीग में फिलहाल पाकिस्तानी खिलाडियों के खेलने पर बैन लगा हुआ है। इस पर भास्कर ने भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर एक सर्वे कराया। इसमें 70.9% फैन्स का मानना है कि पाकिस्तानी प्लेयर्स को IPL में मौका नहीं दिया जाना चाहिए। वहीं, सिर्फ 29.1% फैन्स को लगता है कि क्रिकेट को भारत-पाक तनाव से दूर रखना चाहिए और पड़ोसी मुल्क के खिलाड़ियों को लीग में मौका दिया जाना चाहिए।

पाकिस्तान के खिलाड़ियों को 2008 के पहले सीजन में पहली और आखिरी बार मौका मिला था। तब 12 पाकिस्तानी प्लेयर्स IPL में खेले थे। 2009 में श्रीलंका टीम पर आतंकी हमले और 26/11 की घटना के बाद ये फैसला लिया गया था कि कोई भी पाक क्रिकेटर IPL में नहीं खेलेगा।

2008 में 5 टीमों में पाकिस्तानी खिलाड़ियों को मौका मिला
IPL का पहला सीजन 8 टीमों के साथ 2008 में खेला गया था। तब 5 टीमों में कुल 12 पाकिस्तानी क्रिकेटर पहली और आखिरी बार टूर्नामेंट खेले थे। तब चेन्नई सुपर किंग्स (CSK), किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) और मुंबई इंडियंस (MI) ही ऐसी टीमें थी, जिसमें कोई पाक क्रिकेटर शामिल नहीं था। कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) में सबसे ज्यादा 4 पाकिस्तानी क्रिकेटर खेले थे।

राजस्थान रॉयल्स (RR) में 3, जबकि दिल्ली डेयरडेविल्स (DD) और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) में 2-2 प्लेयर्स को जगह मिली थी। हैदराबाद की टीम डेक्कन चार्जर्स (DC) ने अकेले शाहिद अफरीदी को शामिल किया था।

सोहेल तनवीर ने बनाया था रिकॉर्ड
IPL के पहले ही सीजन में पाकिस्तान के तेज गेंदबाज सोहेल तनवीर ने एक मैच में 6 विकेट लेने का रिकॉर्ड बनाया था। वे राजस्थान के लिए खेले थे। तनवीर ने चेन्नई के खिलाफ 4 ओवर में 14 रन देकर 6 विकेट लिए थे। उनका यह रिकॉर्ड 11वें साल में वेस्टइंडीज के बॉलर अल्जारी जोसेफ ने तोड़ा था। जोसेफ ने मुंबई के लिए खेलते हुए हैदराबाद के खिलाफ 3.4 ओवर में 12 रन देकर 6 विकेट लिए थे।

2 नई टीमों के जुड़ने से अगले साल होगा मेगा ऑक्शन
2022 IPL में 2 नई टीमें जुड़ेंगी। तब टूर्नामेंट में कुल 10 टीमें हो जाएंगी। ऐसे में अगले साल मेगा ऑक्शन होगा। आखिरी मेगा ऑक्शन 2018 में हुआ था, क्योंकि चेन्नई और राजस्थान टीमें 2 साल का बैन झेलने के बाद लीग में वापस आई थीं। इस मेगा ऑक्शन में 182 स्लॉट के लिए 13 देशों के 578 खिलाड़ियों को चुनने के लिए 8 टीमों ने बोली लगाई थी।

भारत-पाकिस्तान के बीच आखिरी सीरीज 2012 में हुई थी
पिछली बार जब 2012-13 में दोनों टीमों के बीच द्विपक्षीय सीरीज हुई थी, तो पाकिस्तान टीम ने भारत का दौरा किया था। टी-20 सीरीज 1-1 से ड्रॉ रही थी, वहीं वनडे सीरीज को पाकिस्तान ने 2-1 से जीता था।

ICC टूर्नामेंट में ही एक-दूसरे से खेल रहीं टीमें
भारत-पाक ने 2007-08 सीजन के बाद से टेस्ट सीरीज में भी एक-दूसरे का सामना नहीं किया है। हालांकि, दोनों टीमें ICC टूर्नामेंट्स में एक-दूसरे के खिलाफ खेलती रही हैं। दोनों के बीच आखिरी टी-20 मुकाबला 19 मार्च, 2016 को हुआ था। तब ICC टी-20 वर्ल्ड कप के इस मैच में भारत ने पाकिस्तान को 6 विकेट से हराया था।

2017 से लेकर अब तक 5 वनडे खेले
2017 से भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ 5 वनडे ही खेले हैं। यह सभी मैच ICC टूर्नामेंट्स का हिस्सा रहे। इसमें 2 मैच 2017 चैम्पियंस ट्रॉफी, 2 मैच 2018 एशिया कप और 1 मैच 2019 वर्ल्ड कप में खेला गया।

खबरें और भी हैं…
- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here