29.4 C
New Delhi
Friday, May 14, 2021

कोहली ने बताया पडिक्कल की सेंचुरी का राज: पडिक्कल जल्द मैच खत्म करना चाहता था, उससे पहले 100 बनाने को कहा तो बोला- आगे बहुत सारे शतक आएंगे

- Advertisement -
- Advertisement -
  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Ipl
  • RCB Vs RR, IPL 2021 Virat Kholi Told: Paddikal Wanted To Finish The Match Soon, Asked Him To Make 100 Before He Said Many More Centuries Will Come.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई7 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

IPL के गुरुवार को खेले मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने राजस्थान रॉयल्स को 10 विकेट से रौंद दिया। मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए इस मैच में देवदत्त पडिक्कल ने कप्तान विराट कोहली के साथ मिलकर बिना विकेट खोए 177 रन के टारगेट को पूरा कर आरसीबी को जीत दिलाई। पडिक्कल ने 52 बॉल पर 101 रन और विराट कोहली ने 47 गेंदों पर नाबाद 72 रन की पारी खेली। पडिक्कल ने IPL में पहली सेंचुरी लगाई।

मैच के बाद आरसीबी के कप्तान विराट कोहली ने पडिक्कल की तारीफ की और उनकी सेंचुरी का राज बताते हुए कहा कि मैंने पडिक्कल को 40-50 रन के बाद आक्रामक खेलने को लेकर बात की थी। वहीं पडिक्कल ने मुझसे कहा कि जल्दी से मैं शॉट लगाकर टीम को जीत दिला दूं, लेकिन पडिक्कल अपनी पहली सेंचुरी के करीब थे। इसलिए मैंने उनसे अपना पहला शतक पूरा करने के लिए कहा। कोहली ने कहा कि पडिक्कल शानदार खिलाड़ी हैं। पिछले सीजन में उन्होंने अपने पहले IPL में शानदार बल्लेबाजी की थी। वे भविष्य में अच्छा प्रदर्शन करेंगे।

पडिक्कल हो गए थे कोरोना संक्रमित
पडिक्कल IPL शुरू होने से पहले कोरोना संक्रमित हो गए थे। इसलिए वे मुंबई के खिलाफ पहला मैच नहीं खेल पाए थे। इस सीजन में अब तक खेले तीन मैचों में पडिक्कल 68.50 की औसत से 137 रन बना चुके हैं। वहीं IPL में अब तक खेले 18 मैचों में 35.88 की औसत से 610 रन बना चुके हैं। जिसमें एक सेंचुरी और 5 हाफ सेंचुरी शामिल हैं।

पडिक्कल बोले- पहली सेंचुरी मेरे लिए खास
वहीं मैन ऑफ मैच रहे पडिक्कल ने कहा कि IPL में पहली सेंचुरी मेरे लिए खास है। मैं गेंद का सामना करने के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रहा था। मैं जब कोरोना पॉजिटिव हुआ था, उसके बाद से मैं IPL में आकर खेलना चाहता था। मैं पहला मैच नहीं खेल पाया, उससे मैं निराश था। इस मैच में विकेट काफी अच्छा था।

जब हम पार्टनरशिप करते हैं तो चीजें काफी आसानी हो जाती हैं। सेंचुरी के करीब पहुंचने पर मैं किसी तरह के दबाव में नहीं था। मैंने विराट को कहा कि आप जल्दी से मैच को खत्म कीजिए, लेकिन उन्होंने मुझे अपना शतक पूरा करने के लिए कहा। मेरे लिए शतक से ज्यादा महत्व टीम की जीत रखता है।

खबरें और भी हैं…
- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here